क्या टैटू करवाने से हो सकता है हेपटाइटिस, HIV, मलेरिया, जानें कैसे?

क्या टैटू करवाने से हो सकता है हेपटाइटिस, HIV, मलेरिया, जानें कैसे?

know how tattoos can be a cause of hepatitis

आइए जानते हैं कि किस तरह टैटू से फ़ैल सकती हैं जानलेवा बीमारियां…

आजकल टैटू बनवाना लेटेस्ट ट्रेंड बन चुका है. कुछ लोग कूल दिखने के लिए टैटू बनवाना पसंद करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि टैटू से HIV, मलेरिया और डेंगू जैसे भयानक और जानलेवा बीमारियां भी हो सकती हैं. कई बार जानकारी के अभाव के चलते लोग टैटू बनवाते हैं और कुछ चीजों का ख्याल नहीं रखते और इन बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं. शुरुआत में उन्हें बीमारी का अंदाजा नहीं लगता जिससे आगे जाकर समस्या गंभीर रूप ले लेती है. आइए जानते हैं कि किस तरह टैटू से फ़ैल सकती हैं जानलेवा बीमारियां…

जब आप टैटू बनवाते हैं तो टैटू नीडिल के जरिए रंग स्किन के अन्दर डाला जाता है जिससे कि नीडिल बॉडी में जाती है और ब्लड के कांटेक्ट में रहती है. लेकिन अगर आपके टैटू बनवाने से पहले कोई HIV, मलेरिया और डेंगू का मरीज टैटू बनवा चुका है तो इससे आपको भी इन बीमारियों के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है.
इस तरह बचें:

1. टैटू बनवाने से पहले इस बात का ध्यान दें कि टैटू बनाने वाले ने नीडिल अच्छे से साफ कर ली है या नहीं. टैटू नई नीडिल से बनवाना ज्यादा बेहतर रहता है. अगर नीडिल अच्छे से साफ़ नहीं है तो टैटू न बनवाएं.

2. किसी भी नार्मल जगह से टैटू न करवाएं. जिस जगह से टैटू करवाना हो वहां के बारे में अच्छे से छानबीन कर लें और पता कर लें कि उसके पास टैटू बनाने का लाइसेंस है या नहीं.

tattoos can be a cause of hepatitis

tattoos can be a cause of hepatitis

3. टैटू बनवाने से पहले इस बात की तस्दीक कर लें कि टैटू आर्टिस्ट ने टैटू मशीन को स्टरलाइज किया है या नहीं. बिना स्टरलाइज की हुई मशीन से टैटू न बनवाएं. टैटू करवाने से पहले जिस बॉडी पार्ट पर टैटू बनवाना है अच्छी तरह से सफाई कर ले.

सौजन्य:न्यूज 18

You may also like...

Leave a Reply

%d bloggers like this: