नए जमाने के इन 4 पेमेंट बैंक में मिल रहा है 3% ज्यादा ब्याज!

नए जमाने के इन 4 पेमेंट बैंक में मिल रहा है 3% ज्यादा ब्याज!

देश में खुल चुके हैं नए जमाने के ये 4 बैंक, मिल रहा है 3% तक ज्यादा ब्याज!

देश में खुल चुके हैं नए जमाने के ये 4 बैंक, मिल रहा है 3% तक ज्यादा ब्याज!

  • Share this:
देश में अभी तक नए जमाने के 4 पेमेंट बैंक खुल चुके है. इनमें परंपरागत बैंकों के मुकाबले कहीं ज्यादा ब्याज मिल रहा है. फिलहाल देश में फिनो पेमेंट्स बैंक, एयरटेल पेमेंट बैंक, इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक और पेटीएम पेमेंट बैंक अपना ऑपरेशन शुरू कर चुके है. पेमेंट बैंक आम बैंकों से काफी अलग है. इसमें कस्टमर्स खात खोल सकते है और एक लाख रुपए तक डिपॉजिट कर सकते हैं, लेकिन ये बैंक किसी कर्ज नहीं बांट सकते.आइए जानते है नए जमाने के पेमेंट बैंक को…डिपॉजिट पर मिल रहा है आम बैंकों से ज्यादा ब्याज
मौजूदा समय में पेटीएम पेमेंट बैंक और फिनो पेमेंट बैंक परंपरागत बैंकों की तरह डिपॉजिट पर 4 फीसदी ब्याज दे रहे हैं. जबकि, एयरटेल पेमेंट बैंक 7.25 फीसदी और इंडिया पोस्ट बैंक 5.5 फीसदी ब्याज दर रहे हैं. आपको बता दें कि ये पेमेंट बैंक जल्द ही थर्ड पार्टी के जरिए इन्श्योरेंस और म्यूचुअल फंड्स प्रोडक्ट्स भी लॉन्च करने की तैयारी में है.

एक लाख रुपए तक हो सकते हैं डिपॉजिट

पेमेंट बैंक का मॉडल भारतीय रिजर्व बैंक ने तैयार किया है. यह पूरी तरह बैंक तो नहीं होंगे, लेकिन बैंक जैसे ही काम करेंगे.इन पेमेंट बैंकों में आप एक लाख रूपये तक जमा कर सकते हैं. ये बचत और चालू खाता में जमा किए जा सकते हैं.

एटीएम कार्ड और डेबिट कार्ड भी मिलते है
पेमैंट बैंक आपको एटीएम कार्ड और डेबिट कार्ड भी मुहैया कराएंगे. मोबाइल बैंकिंग और ऑनलाइन बैंकिंग की सुविधा भी होगी. लेकिन ये बैंक ना तो आपको लोन दे पाएंगे और ना ही क्रेडिट कार्ड जारी कर पाएंगे.

Loading…

लेन-देन काफी आसान
मोबाइल फोन के जरिए आप अपने पैसे को ट्रांसफर कर सकते हैं, निकाल सकते हैं. हर गांव में बैंक की शाखा खोलने की तुलना में ये सस्ता विकल्प भी है.बैंकिंग हुई बेहद आसान
इस बैंक की परिकल्पना रिजर्व बैंक के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन ने की थी. माना जा रहा है कि इससे बैंकिंग सेक्टर में विविधता आएगी और अब तक बैंकिंग व्यवस्था से दूर रही जनता भी जुड़ेगी. कोई भी उपभोक्ता अपने पहचान पत्र के जरिए इससे जुड़ सकता है. इसके जरिए बैंक ख़ाता खुलवाने के झंझटों से आप बच सकते हैं और कैशलेस इकॉनमी की ओर बढ़ सकते हैं.

नए बैंकों को खोलने का क्या है मुख्य उद्देश्य
पेमेंट बैंक और स्मॉल बैंक के लिए गाइडलाइन जारी करने लिए गठित नचिकेत मोर कमेटी ने फ्रेमवर्क में कहा था कि वह चाहता है कि ग्राहक को हर 15-20 मिनट की दूरी पर कस्टमर को बैंकिग सर्विस मिले. ऐसे में इस लक्ष्य को पेमेंट बैंक पूरा करने में सपोर्ट मिलेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑनलाइन बिज़नेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2017, 10:15 AM IST

Loading…

You may also like...

Leave a Reply

%d bloggers like this: