मुंगेर: पति-पत्नी मिलकर घर के तहखाने में चला रहे थे शराब की फैक्ट्री

पति-पत्नी मिलकर घर के तहखाने में चला रहे थे शराब की फैक्ट्री, बना लिया था फैमिली बिजनेस

मुंगेर के एक घर में झारखंड से मंगवाई जा रही शराब की पैकिंग की जाती थी.

मामले में पुलिस ने गृहस्वामी सहित दो महिलाओं को भी गिरफ्तार किया है. पुलिस अब इस धंधे में शामिल अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने की तैयारी में लगी है.

मुंगेर. बिहार में शराबबंदी (Liquor ban) के बावजूद अपराधी और शराब माफिया (Liquor Mafia)मिलकर इसे व्यवसाय का रूप देते जा रहे हैं. कम लागत में अधिक मुनाफा कमाने के इस करतूत का खुलासा उस वक्त हुआ जब पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी (Raid) की. इसके तहत शहर के कासिम बाजार थाना क्षेत्र में संदलपुर में अवैध शराब निर्माण फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया गया. बताया जा रहा है कि पति-पत्नी मिलकर इस धंधे को मकान के तहखाने (Under Ground) में चला रहे थे.2 महिला समेत 3 गिरफ्तार
छापेमारी में पुलिस ने वहां से 200 एमल का 527 पाउच नकली देशी शराब, 2 देशी पिस्तौल, 10 जिंदा कारतूस के साथ ही शराब पैकेजिंग के लिए रखा गया पाउच, पैकिंग मशीन, 250 लीटर स्पिरिट जब्त किया है. इसके अलावा वहां से कई बैंकों के पासबुक और चेकबुक भी बरामद किया गया है. इस मामले में पुलिस ने गृहस्वामी सहित दो महिलाओं को भी गिरफ्तार किया है. पुलिस अब इस धंधे में शामिल अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने की तैयारी में लगी है.

घर के तहखाने में थी फैक्ट्री

एसपी डॉ गौरव मंगला ने बताया कि पुलिस को कई दिनों से सूचना मिल रही थी कि पति और पति मिलकर नकली देशी शराब बनाने का कारखाना चला रहे हैं. ये उनके घर के तहखाने में चल रहा था. सूचना के बाद पुलिस की स्पेशल टीम बनाई गई और संदलपुर निवासी उदय सिंह के घर छापेमारी की गई.

नेटवर्क की तलाश में जुटी पुलिस
एसपी ने बताया कि उदय और उसकी पत्नी इस कारखाने को काफी दिनों से फैमली बिजनेस के रूप में चला रहे थे. झारखंड में बनाई गई शराब की अपने घर में पाउच पैकिंग करते थे और मुंगेर और बाहर के शहरों-गांवों में इसकी सप्लाई की जाती थी. इस काम को एक नेटवर्किंग के जरिये अंजाम दिया जा रहा था. अब इस पूरे रैकेट को तलाशने में पुलिस जुट गई है.

Loading…

शराब बेचकर बनाई अकूत संपत्ति
बताया जा रहा है कि लंबे समय से उदय कुमार अपने घर से अवैध शराब बनाता था और उसका व्यवसाय कर रहा था. इस कारोबार से उसने अकूत संपत्ति अर्जित कर रखी है. पुलिस ने शराब की पैकिंग करने की मशीनों के साथ 7 चेकबुक, 6 पासबुक, 4 एटीएम कार्ड, 1 पैन कार्ड, 1 आधार कार्ड एवं जमीन के कागजात बरामद किए हैं. मामले में गृहस्वामी उदय कुमार, उसकी पत्नी गुड़िया देवी, हसनगंज निवासी स्व. अवधेश यादव की पत्नी रेणु देवी को गिरफ्तार कर घर सील कर दिया गया है.रिपोर्ट- अरुण कुमार शर्मा

सौजन्य:न्यूज 18

You may also like...

Leave a Reply

%d bloggers like this: