2.0 Movie Review: सुपर पावर वाली चील और चिट्टी का मुकाबला शुरू

2.0 Movie Review: सुपर पावर वाली चील और चिट्टी का मुकाबला शुरू

2.0 फिल्म में अक्षय कुमार ‘सुपर विलेन’ के रोल में हैं.

अक्षय कुमार के विलेन वाले अंदाज को लोग खूब पसंद कर रहे हैं. इंटरवेल तक फिल्म के डायरेक्टर ने दर्शकों को ऐसा बांधकर रखा है कि उन्हें अक्षय की पहली झलक इंटरवेल के एक मिनट पहले नजर आती है.

  • Share this:
रजनीकांत और अक्षय कुमार की फिल्म 2.0 थिएटर्स में रिलीज हो चुकी है. हमेशा की तरह जैसे ही पर्दे पर रजनीकांत की एंट्री होती है, फिल्मों में उन्हें भगवान की तरह पूजने वाले फैंस की खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा. पूरे थिएटर में चारों तरफ ऐसा खुशी और उत्साह का माहौल था जैसे कोई त्योहार मनाया जा रहा हो.अक्षय कुमार के विलेन वाले अंदाज को लोग खूब पसंद कर रहे हैं. इंटरवेल तक फिल्म के डायरेक्टर रजनीकांत ने ऐसा दर्शकों को बांधकर रखा है कि उन्हें अक्षय की पहली झलक इंटरवेल के एक मिनट पहले नजर आती है.

इंटरवेल तक की कहानी
फिल्म की कहानी शुरू होती है जब अक्षय कुमार एक सेलफोन टावर से लटककर आत्महत्या कर लेते हैं. उसके बाद एक एक करके सारे सेलफोन गायब होने लगते हैं. आगे चलकर पता चलता है कि एक ऐसी एनर्जी है जिसे सेलफोन पसंद नहीं हैं और उसने एक डरावनी चिड़िया का रूप धारण किया हुआ है.

इंटरवेल तक फिल्म में एक भी मोमेंट ऐसा नहीं है कि आप फिल्म से अपना ध्यान हटा पाएं. जब ये डरावनी चिड़िया एक टेलिकॉम मंत्री और एक सेलफोन कंपनी के मालिक की जान ले लेती है. तब सभी को इस मामले की गंभीरता का एहसास होता है और वो टेलिकॉम मंत्री बने आदिल हुसैन आदेश देते हैं कि चिट्टी रोबोट को वापस लाया जाए. जिसे पिछली फिल्म में डिसमेंटल कर दिया गया था.

पहले ही मुकाबले में चिट्टी इस चिड़िया को बुरी तरह शिकस्त देता है. इस मुकाबले को जब आप फिल्मी पर्दे पर देखेंगे तो आपके रोंगेटे खड़े हो जाएंगे. लेकिन ये डरावनी चिड़िया इतनी आसानी से हार नहीं मानती. वो कुछ वक्त के बाद फिर से वापस आ जाती है और लोगों को मारना शुरू कर देती है.

फिल्म में वैज्ञानिक बने रजनीकांत इस चिड़िया को खत्म करने का प्लान बना लेते हैं. लेकिन मैकेनिकल फेल्योर की वजह से सारा कंट्रोल चिड़िया के हाथ में चला जाता है और चिट्टी अकेला इसे काबू करने निकल पड़ता है.

Loading…

शानदार ग्राफिक्स
फिल्म के ग्राफिक्स शानदार हैं. इस फिल्म को पिछले साल रिलीज होना था लेकिन इसके ग्राफिक्स के काम से संतुष्ट न होने की वजह से इस फिल्म को एक साल तक फिर से सजाया संवारा गया. जो फिल्म देखने पर पता चलता है कि कैसे इस फिल्म को हॉलीवुड लुक देने के की कोशिश की गई है.पिछली फिल्म रोबोट से आगे निकली 2.0
रजनीकांत और डायरेक्टर शंकर की पिछली फिल्म रोबोट से ये फिल्म काफी आगे निकल गई है. मोबाइल फोन्स ने आज के वक्त में इंसान की जिंदगी को कैसे अपने कब्जे में ले लिया है. ये फिल्म उसी खतरे की तरफ इशारा करती है. जो एक शानदार कॉन्सेप्ट है.

डिटेल्ड रेटिंग

कहानी:
स्क्रिनप्ल:
डायरेक्शन:
संगीत:

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फ़िल्म रिव्यू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2018, 1:07 PM IST

Loading…

You may also like...

Leave a Reply

%d bloggers like this: